Gao gao Yeshu munajjee ke geeten 90

गाओ गाओ यीशु मुनज्जी के गीतें

गाओ गाओ यीशु मुनज्जी के गीतें
गाओ उसका बे-हद अजीब प्यार
हम्द ओ सन्ना इज़्ज़त ओ हशमत ओ क़ुदरत
उस मुबारक मुन्जी पर है निसार
गाओ गाओ यीशु मुनज्जी के गीतें
गाओ गाओ दिल से मसीह का प्यार
यीशु हमको अपने प्यार में रखता
उसकी गोद में पाते है चैन हर बार

गाओ गाओ यीशु मुनज्जी के गीतें
वह हम सब के लिये है जां निसार
वह हमारा शाफ़ी ओ मुंजी ओ बादशाह
हल्लिलूयाह यीशु हमारा यार
सना सना यीशु ने दुख उठाया
आह यह उसका कैसा अजीब प्यार
गाओ गाओ यीशु मुनज्जी के गीतें
गाओ गाओ दिल से मसीह का प्यार

गाओ गाओ यीशु मुनज्जी के गीतें
ऐ ज़मीन अब खुशी का नारा मार
यीशु मुंजी, अज़ली ओ अबदी ख़ुदावन्द
है हमारा शाफ़ी ओ शाह सरदार
क्रूस पर उसने कहा कि पूरा हुआ
ताज व तख़्त का यीशु अब है हक़्क़दार
गाओ गाओ यीशु मुनज्जी के गीतें
गाओ गाओ दिल से मसीह का प्यार

Gao gao Yeshu munajjee ke geeten

Gao gao Yeshu munajjee ke geeten
gao uska be-had ajeeb pyaar
hamd o sanna izzat o hashamat o qudarat
us mubaarak munjee par hai nisaar
gao gao Yeshu munajjee ke geeten
gao gao dil se maseeh ka pyaar
Yeshu hamako apane pyaar mein rakhata
usakee god mein paate hai chain har baar

Gao gao Yeshu munajjee ke geeten
voh ham sab ke liye hai jaan nisaar
voh hamaara shaafee o munjee o baadshaah
Halleluiah Yeshu hamaara yaar
sana sana Yeshu ne dukh uthaaya
aah yeh uska kaisa ajeeb pyaar
gao gao Yeshu munajjee ke geeten
gao gao dil se maseeh ka pyaar

Gao gao Yeshu munajjee ke geeten
ai zameen ab khushee ka naara maar
Yeshu munjee, azlee o abdee Khudaavand
hai hamaara shaafee o shaah saradaar
kroos par usne kaha ki poora hua
taaj va takht ka Yeshu ab hai haqqdaar
gao gao Yeshu munajjee ke geeten
gao gao dil se maseeh ka pyaar

Gar rahat ke chashmon se hove guzr 290

ग़र राहत के चश्मों से होवे गुज़र

ग़र राहत के चश्मों से होवे गुज़र,
ग़र दुखों का होवे सामान
जो हिस्से में होवे, मैं गाऊंगा यह
है ख़ुशहाल, है ख़ुशहाल मेरी जान

है ख़ुशहाल, है ख़ुशहाल,
मेरी जान मेरी जान
है ख़ुशहाल, है ख़ुशहाल मेरी जान

ख़ूब लड़े शैतान अगर हों इम्तिहान
इस बात से है दिल को अमान
कि यीशु ने जाना पहचाना मुझको
देके ख़ून रिहा की मेरी जान

गुनाह आह क्या राहत
बख़्श चैन का ख़याल
गुनाह मेरे कुल बे-गुमान
मसीह की सलीब पर सब छोड़े गये
खुशी कर खुशी कर मेरी जान

जिस हाल मेरी जान यीशु के है सुपुर्द
जब यरदन का होवे तूफ़ान
न ग़म होगा मुझको न मौत में हिरास
कि राहत में है ख़ूब मेरी जान

ख़ुदावन्द हम ठहरते है जल्दी तू आ
न गोर बल्कि घर है आसमान
नरसिंगे और ख़ालिक की ज़िन्दा आवाज़
देंगे चैन तुझको ख़ूब मेरी जान

Gar raahat ke chashmon se hove guzar

Gar raahat ke chashmon se hove guzar,
gar dukhon ka hove saamaan
jo hisse mein hove,
main gaoonga yeh
hai khushahaal, hai khushahaal meree jaan

Hai khushahaal, hai khushahaal,
meree jaan meree jaan
hai khushahaal, hai khushahaal meree jaan

Khoob lade shaitaan agar hon imtihaan
is baat se hai dil ko amaan
ki Yeshu ne jaana pehchaana mujhko
deke khoon riha kee meree jaan

Gunaah aah kya raahat
bakhsh chain ka khayaal
gunaah mere kul be-gumaan
masih kee saleeb par sab chhode gaye
khushee kar khushee kar meree jaan

Jis haal meree jaan Yeshu ke hai supurd
jab yardan ka hove toofaan
na gam hoga mujhako na maut mein hiraas
ki raahat mein hai khoob meree jaan

Khudaavand ham thaharte hai jaldee too aa
na gor balki ghar hai aasmaan
narsinge aur khaalik kee zinda aawaaz
denge chain tujhko khoob meree jaan

Gar krus ka main sipahee hoo 332

ग़र क्रूस का मैं सिपाही हूँ

ग़र क्रूस का मैं सिपाही हूँ
और पैरू बर्रे का
क्या उसके नाम ओ काम से मैं
यहाँ शरमाऊँगा

ऐ यीशु मुझे रख दिलेर
और वफादार सदा
और जब तू तख्त पर बैठा हो
तो मुझे याद फ़रमा

क्या मैं आसमान के सफ़र में
आराम से सो रहूँ
जब औरों ने दिलेरी से
बहाया अपना खून

क्या जंग का हुआ इख्तिताम
क्या दुश्मन न रहे
क्या मैं हथियार फेंक कर के
अब चलूँ ग़फ़लत से

हां बे-शक्क मुझ को लड़ना है
ख़ुदावन्द मदद दे
मैं दु:ख तकलीफ सब सहूंगा
ख़ास तेरे फ़ज़ल से

ख़ुदा का लश्कर जीतेगा
हो गरचि जंग कमाल
कि उनका हादी यीशु है
ख़ुदावन्द जूल-जलाल

लड़ हिम्मत से ऐ ईमानदार
जल्द मालिक आवेगा
और अपनी वफ़ादारी का
इनाम तू पावेगा

Gar kroos ka main sipaahee hoon

Gar kroos ka main sipaahee hoon
aur pairoo barre ka
kya uske naam o kaam se main
yahaan sharmaoonga

Ai Yeshu mujhe rakh diler
aur vafaadaar sada
aur jab too takht par baitha ho
to mujhe yaad farma

Kya main aasmaan ke safar mein
aaraam se so rahoon
jab auron ne dileree se
bahaaya apna khoon

Kya jang ka hua ikhtitaam
kya dushman na rahe
kya main hathiyaar phenk kar ke
ab chaloon gaflat se

Haan be-shakk mujh ko ladna hai
Khudaavand madad de
main dukh takaleeph sab sahoonga
khaas tere fazal se

Khuda ka lashkar jeetega
ho garachi jang kamaal
ki unka haadee Yeshu hai
Khudaavand jool-jalaal

Lad himmat se ai eemaanadaar
jald maalik aavega
aur apanee vafaadaaree ka
inaam too paavega

Gaderiyo ne dekha ujiyala 673

गड़रियो ने देखा उजियाला आधी रात

गड़रियो ने देखा उजियाला आधी रात

वो बारी बारी गल्ले की करते रखवारी
मैं बारी प्यारी बोला फ़रिश्ता आधी रात

फ़रमाया उसने बैतलहम को तुम जाओ
की पैदा हुआ यीशु मसीहा आधी रात

कपडे में लिपटा तुमको मिलेगा एक बच्चा
की चरनी का भी चमका सितारा आधी रात

Gadariyo ne dekha ujiyaala aadhee raat

Gadariyo ne dekha ujiyaala aadhee raat

Voh baaree baaree galle kee karte rakhvaaree
main baaree pyaaree bola farishta aadhee raat

Faramaaya usne bethlehem ko tum jao
kee paida hua Yeshu masiha aadhee raat

Kapde mein lipta tumko milega ek bachcha
kee charnee ka bhee chamka sitaara aadhee raat

Gaderiye jab bhedon ko 98

गड़रिये जब भेड़ों को

गड़रिये जब भेड़ों को,
रात में चरा रहे
एक दूत जो बीच में उतरा था
साथ बड़े विभव के

घबराओ मत उसने कहा,
मैं करने को प्रचार
अब आया हूँ सब लोगों को,
बड़ा सुसमाचार

तुम्हारे लिये जन्मा है,
दाऊद के कुल ही से
एक त्राणकर्ता, आज के दिन
तुम उसे देखोगे

एक बालक को तुम पाओगे,
दाऊद के नगर में
कपड़े में लिपटा हुआ है,
और पड़ा चरनी में

जब यूँ ही बोला उसके संग
अचानक आये थे
दूत बहुतेरे जो यह गीत
आनन्द से गाते थे

गुणानुवाद हो ईश्वर को,
और जग पर शान्ति हो
प्रसन्नता हो मनुष्यों पर,
अभी और सदा को

Gadariye jab bhedon ko

Gadariye jab bhedon ko,
raat mein chara rahe
ek doot jo beech mein utra tha
saath bade vibhav ke

Ghabarao mat usne kaha,
main karne ko prachaar
ab aaya hoon sab logon ko,
bada susamaachaar

Tumhaare liye janma hai,
daood ke kul hee se
ek traankarta, aaj ke din
tum use dekhoge

Ek baalak ko tum paoge,
daood ke nagar mein
kapde mein lipata hua hai,
aur pada charanee mein

Jab yoon hee bola uske sang
achaanak aaye the
doot bahutere jo yah geet
aanand se gaate the

Gunaanuvaad ho eeshvar ko,
aur jag par shaanti ho
prasannata ho manushyon par,
abhee aur sada ko